My Oil Painting

Visit My Photos - 9 Pics
My Oil Painting

और भी कुछ रचा है यहाँ

भोर की पहली किरण मन से मनव्योम तक ---- http://bhorkipehlikiran.blogspot.com/

शुक्रवार, 5 फ़रवरी 2010

स्थान


जिला फोंडा (गोवा ) में  स्थित  यह स्थान दूध सागर कहलाता है  जो  अभयारण्य में स्थित  है।  सफेद  दूध जैसा फेनिल पानी निर्मल एहसास जगाता है।
 यहां दिखाई देने वाला यह रेल पुल अंग्रेजों   के समय का बना हुआ  है।

गुरुवार, 4 फ़रवरी 2010

ऐतिहासिक स्थान

 मंगेशपुर  (गोवा) के पास के एक गांव की हवेली। इस इलाके के कई गांवों में अग्रंेजो ने ऐसी उस समय की तमाम सुख सुविधायुक्त हवेलियां उनको दी जिन्होंने उनकी अधीनता स्वीकार कर उनके लिये लगान व कचहरी का काम करना स्वीकार किया। उनको वो गांव दे दिया गया। उन्हीं हवेली में से एक को अब संग्रहालय रुप में खोला गया है।  
उसी के यह चित्र है।  
इनमें लगभग   दो सौ साल पुरानी वस्तुएं है।
इडली बनाने के बर्तन ।
मांस रक्षण
पलंग
भोजन कक्ष
आभूषण रखने का
पालकी
रेडियो


 

बुधवार, 3 फ़रवरी 2010

पावापुरी तीर्थ----------सिरोही

यह धाम आधुनिक वास्तु का उत्कृष्ट नमूना है।

मेरी फोटोग्राफी


 


मलेशिया  कुआलालमपुर  के  ट्विन टावर के  दृश्य। 
इसका नाम पैटरोनास टावर है यह भारतीय मूल के व्यवसायी का है।  यह उनकी पैटरोलियम कंपनी      का आॅफिस       है।
ट्विन टावर के पास ही बना उसका माॅल ।

मंगलवार, 2 फ़रवरी 2010

तैल चित्र

जयपुर के एक समारोह में प्रदर्शित तैल चित्र

मेरी फोटोग्राफी


रणकपुर (उदयपुर )  जाते  समय  यह  जगह  रास्ते  में  आती  है  जहां  तोतों   को  दाना  डाला  जाता  है  और  सैंकड़ों तोते आते  है।

रविवार, 31 जनवरी 2010

कुंभलगढ़ दुर्ग

         aaदुर्ग के चारों ओर बनी 36 किलोमीटर दीवार  के परिसर के भीतर 360  मंदिर है , जिनमें से 300 जैन मंदिर और 60 हिंदु मंदिर  है।